Top 10 share market investment tips hindi

नमस्कार दोस्तों स्वागत है आपका आज शेयर बाजार (share market investment) निवेश से जुड़ी कुछ Top 10 share market investment tips hindi की जरुरी बातो मे.शेयर बाज़ार मे निवेश करने के 10 बेहतरीन tips और strategy.

जिस किसी ने अच्छे से रिसर्च करके शेयर बाज़ार मे निवेश किया उसको अद्भुत मुनाफा मिला है.

वारेन बफेट, झुंझुनवाला जैसे कई share market investors है जिन्होंने अपनी सूझ बूझ और एक्सपीरियंस के दम पर शेयर बाज़ार से अरभो का मुनाफा कमाया.

आप भी कमा सकते हो बस आपको शेयर बाज़ार पर इन्वेस्टमेंट करने की सही strategy पता होनी चाहिये.

तो आज हम आपके लिये बड़ी रिसर्च करके वो Top 10 share market investment tips &strategy लेकर आए है जिससे आप शेयर बाज़ार से अच्छा मुनाफा कमा सकते हो.

Top 10 share market investment tips hindi 

शेयर बाज़ार मे निवेश करने से पहले यह काम जरूर करें.

Share market strategy

शुरुआत मे invest ना करें :- यदि आप share मार्केट मे नए हो तो सबसे पहले कुछ दिन शायर बाजार के शेयर्स पर नजरें बनाए रखे और देखे किस शेयर के दाम मे कितना उतार चढ़ाव आ रहा है. शुरुआती दौर मे बहुत कम पैसे ही invest करें.

Share-market-investment

Goal:- सर्वप्रथम हमें कंपनी का उद्देश्य जानना होगा बेशक़ अभी कंपनी हानि मे हो अगर कंपनी का उद्देश्य उच्च और स्पष्ट हो तो बेशक कंपनी आगे ग्रोथ करेंगी।

Manpower :- कर्मचारी किसी भी कम्पनी के लिए महत्वपूर्ण अंग है। अक्सर हम देखते है कम्पनी का उद्देश्य तो स्पष्ट होता है परन्तु कर्मचारियों का आतंरिक वातावरण तनाव युक्त तो कंपनी का कार्याप्रणाली रुक जाएगी, इसलिए अलीबाबा के फाउंडर जैक मा कहते है उनके लिए निवेशक से अधिक महत्वपूर्ण उनके कर्मचारी है अगर कर्मचारी ही नहीं हो तो निवेशक द्वारा किये निवेश का सही उपयोग नहीं हो सकता है…

Location :-  साथ ही यह भी ध्यान देना होगा कि जिस कंपनी मे निवेश किया जा रहा वह किस क्षेत्र मे स्थापित है यदि तनाव युक्त सम्भधित क्षेत्र से जुड़े है तो निवेश हानिकारक होगा जैसे ताईबान, पाकिस्तान

Leadership:-   यदि कुशल कर्मचारी है परन्तु उनके कुशलता का लाभ सही ढंग से नहीं उठाया जा सकता तब भी कंपनी की असफलता दिखेगी, कंपनी का संचालक त्वरित निर्णय ले सके, कंपनी का वातावरण सुचारु रूप से चला सके उदाहरण के तौर पर TATA कंपनी मे निपूर्ण और योग्यता धारी व्यक्ति को नियुक्त किया जाता है जबकि reliace कंपनी मे पारिवारिक पीढ़ी कपनी की बागडोर संभालती है जो हमारे सामने है reliance capital, reliance पावर और जिओ, reliance इंडस्ट्रीज ल्टड.

Bull & bear condition :-  शेयर बाज़ार की कंडीशन क्या है वो इन्ही दो term मे आकि जाती है.

Share-market-investment

ज़ब शेयर बाज़ार मे ज़ादातर शेयर की कीमतों मे अचानक से बड़ा उछाल आए, एक बड़ा उतार चाढ़ाव आए तो उसे bull condition कहा जाता है.

वहीँ दूसरी तरफ ज़ब शेयर बाज़ार के ज़ादातर शेयर की कीमतों मे बहुत कम उतार चढ़ाव चल रहा होता है तो उसे बेयर मार्केट यानी bear कंडीशन कहा जाता है.

तो इन कंडीशंन की ध्यान मे रख कर ही निवेश करें 

किसी भी शेयर मे निवेश करने से पहले इन बातो का रखे खास ध्यान.

Share market investment से जुड़ी जरुरी बातें :-

👉 यदि कंपनी under value हो तो शेयर खरीद ले यदि over value हो तक बेच दे….. कई बार भीड़ मे निवेशक शेयर खरीदने लगते जिससे कंपनी की market capitalazation बढ़ जाती है

Share-market-investment

👉  कंपनी के लाभ के साथ ही उस कंपनी के कर्ज भी देखना चाहिए।

 

👉 कंपनी का पिछले 7सालों का रिकॉर्ड चेक करें कंपनी stable है या variable जैसे की HDFC  का सन 2020 मे लाभ 3004cr है जो बढ़ कर 2020 मे 27254cr हो गया जबकि SBI मे उतार चढ़ाव देखा गया सन 2010 मे 11734cr था जो घट के 2017 मे 241cr हो गया और 2018 मे बढ़ कर 19768cr हो गया।

 

👉 यदि कंपनी का fundamental भविष्य के अनुरूप हो तो शेयर की कीमत अधिक होने पर भी निवेश करें लम्बे समय अंतराल जरूर retuns प्राप्त होंगे

 

👉 यदि आप IPO मे निवेश कर रहे है तो पहले 2 दिन ना निवेश करें यदि 4 गुना या उससे अधिक subcribe हो तो ही निवेश करें उससे पहले कंपनी का विश्लेषण जरूर कर ले।

👉 कम्पनी के fundamental एनालिसिस जानने के लिए

EPS (Equity per share)= profit / no. Of शेयर

P/E (price to earning ratio)= price of one share / EPS,  यदि यह अनुपात 13 से 20 है तो कम्पनी की value सामान्य है परन्तु 20 से अधिक है तो कम्पनी over value है या तो कंपनी भविष्य मे अच्छा प्रदर्शन करने वाली होंगी।

Share-market-investment

ROE (Return on equity) और ROA(Return on assets)  की जाँच करनी होंगी। इससे जुडी जानकारी कंपनी के cashflow, balance sheet, income statement से प्राप्त हो जाएगी।

उपरोक्त सभी share investment tips को ध्यान पूर्वक पढ़े और विश्लेषण करें तत्पच्यात निवेश करें जिससे जोखिम को कम किया जा सकें।

आज हमने सीखा की शेयर बाज़ार मे निवेश करने से पहले किन बातो का रखे खास ध्यान. उम्मीद करता हु ये share market investment strategy आपको बहुत पसंद आई होगी.

भरोसा दिलाता हु ज़ब आप इस strategy और अच्छी रिसर्च के साथ निवेश करेंगे तो आपको अच्छा मुनाफा होगा.

भारत मे शेयर बाज़ार निवेशक कम क्यों है?

 

दोस्तों भारत मे बहुत कम लोग ही एक अच्छे निवेशक बन पाए है, भारत मे बहुत कम आबादी ही निवेश के प्रति काफ़ी जागरूक है.

यदि बाकी देशो की तरफ भारत की एक बड़ी आबादी पैसा save करने की बजाय निवेश करना शुरु करें तो इसका सकारात्मक प्रभाव भारतीय अर्थव्यवस्था पर पड़ेगा हर व्यक्ति के पास पहले से अधिक पैसा होगा 

भारत मे निवेश को लेकर ज़ादातर भारतीयों की सोच बहुत नकारात्मक है, निवेश करने को लेकर उनके मन मे काफ़ी डर होता है, रिस्क ही नहीं लेना चाहते,और कोई भी ज़ादा वक़्त तक लम्बी अवधि के लिये निवेश करना ही नहीं चाहता.

इसके पीछे का सबसे बड़ा कारण भारतीय शिक्षा है जिसमे लोगो को कभी प्रेक्टिकली तो दूर, थरेटीकली भी ढंग से निवेश करने की शिक्षा नहीं दी जाती.

जिस वजह से भारत मे निवेश को लेकर जागरूकता बहुत कम लोगो मे ही है.

लेकिन ज़ब से लोक डाउन लगा है और internet क्रांति आई है तब से सिशियल मीडिया के माध्यम से और टीवी चैनलो द्वारा इन्वेस्टमेंट को बहुत बढावा दिया गया. तब से भारत मे बहुत से लोग निवेश के प्रति जागरूक भी होने लगे.

भारत मे निवेश को जुडी अमान्यता के कारण निवेश कम किया जाता है। अधिकतर लोग अपने आय से बचत करके बैंक मे जमा करते है या fixed deposit करते है यह सुरक्षित है परन्तु fixed deposit से मिलने वाला व्याज महंगाई दर की अपेक्षा बहुत ही कम है, जबकि शेयर मार्केट तेजी से अधिक आय प्राप्त करने का जरिया है वो कहते है ना पैसे के लिए काम मत करो पैसे को काम पर लगाओ।

विकसित देशो की अपेक्षा विकाशशील देश की निवेश मे अनुपात न्यूतम है भारत जैसे देश मे निवेश से संबधित शिक्षा भी नहीं दी जाती जिससे investment को लेकर जागरूकता बहुत कम है और यह एक बड़ी वजह है  की भारत की इकोनॉमिक्स पीछे है।

अब भारत मे भी इन्वेस्टमेंट को लेकर पिछले 5 सालो से लोगों की सोच मे बदलाव आया है , कोरोना महामारी के दौरान लोगों की रूचि शेयर मार्केट मे बढ़ गयी है.

यह अक्सर देखा गया है की अधिकतर लोग शेयर मार्केट मे निवेश तो करना चाहते है परन्तु जानकारी के आभाव मे कर नहीं पाते या करते है तो हानि करा बैठते है।

अपने दोस्त के Share market loss से दर कर बाकी के 50 लोगो मे ये message पहुँच जाता है और यही से उनकी मानसिकता तैयार हो जाती है  

अधिकांश निवेशक का अनुमान है की शेयर मार्केट भाग्य से चलता है अगर ऐसा है तो राकेश झुंझुँवाला, वारेन बफेट भाग्यशाली है। लेकिन भाग्य से ज़ादा खुद ही सही रिसर्च और केलकुलेशन काम आती है.

ज़ब हम सब्जी लेते है तो सब्जी को परखते है और कई सब्ज़ी बेचने वालों के पास  जा कर सब्जियों की कीमत देखते फिर हम सब्जी खरीदते है तो आप अपनी जमापूंजी  बिना परखे कैसे लगा सकते है इसलिए निवेश से पहले निम्न बातों का अध्यन जरूर कर लें।

उम्मीद करता हूं इस आर्टिकल से आपको बहुत कुछ सीखने को मिला होगा. हम अपने blog पर ऐसे ही तमाम information अपलोड करते रहते है.

एक आत्मनिर्भर भारत के सपने को सकार करने के लिये हम इस blog पर business ideas को लेकर आते रहते है साथ मे सोर्स of इनकम को कैसे बढाया जाए उसके बारे भी tips और strategy इस मंच पर आपसे शेयर करते है हमारे blog से जुड़े रहे और ताज़ा जानकारी प्राप्त करते रहे.

इन्हे भी जरूर पढे 

50 small business ideas hindi

 

Leave a Comment