WordPress पर SEO friendly article कैसे लिखें best सही तरीका

WordPress पर SEO friendly article कैसे लिखें जानिए सही तरीका – mobile से blog post kaise likhe – google par artikl kaise rank karwae 

 

नमस्कार दोस्तों स्वागत है आपका, free blogging course hindi के भाग -5 में. आज हम जानेंगे, wordpress पर seo friendly article कैसे लिखा जाता है. Article लिखते समय किन किन बातो का खास ध्यान रखा जाता है.article लिखने का सही तरीका क्या है?

 

उम्मीद करता हूं आपने free blogging course के भाग -4 को अच्छे से पढ़ कर समझ लिया होगा. उसमे हमने बताया था की google search console क्या होता है? और यह blog और आर्टिकल को google search result मे लाने मे कैसे मदद करता है blog को google search console से कैसे जोड़ा जाता है. यदि आपने वो आर्टिकल नहीं पढ़ा तो एक बार जरूर पढ़ लें.

 

आज हम wordpress पर mobile से आर्टिकल लिखने का वो सही तरीका बताने जा रहे है जिसे समझने के बाद आप भी अपने आर्टिकल को गूगल पर आसानी से rank करवा के ऑर्गेनिक ट्रेफिक प्राप्त कर सकोगे.

क्योंकि ऐसा होने मे on page seo और off page seo का बहुत बड़ा योगदान होता है. आज बम इन्ही दोनों seo technique का सही उपयोग करके आपको seo friendly article लिख कर बताएंगे.

ये एक सीक्रेट है जिसे कोई blogger शेयर नहीं करता लेकिन मै कर रहा हु ताकी हर किसी को blogging मे सफल होने का मौका मिले.

Seo friendly article लिखने मे seo का रोल 

Seo friendly article लिखने मे सबसे अहम रोल , on page seo का होता है.लेकिन आर्टिकल लिखने की शुरुआत off page seo से ही आरम्भ होती है जिसका नाम है keyword research करना.

Off page seo kya hai पूरी जानकारी 

पस प्रकार आर्टिकल लिखने का सही तरीका seo से ही होकर निकलता है.जिसमे आर्टिकल लिखते समय उसे top rank करवाने के पर्पस से इन बातो का  खास ध्यान रखा जाता है.

जैसे –

  • Keyword कैसे और कहाँ से फाइंड करें?
  • टाइटल कैसा डालना चाहिए?
  • टाइटल मे कितने words होने चाहिये और कौन से words उपयोग नहीं करने चाहिये?
  • Permalink कैसा होना चाहिए?
  • Table of content कैसे लगाया जाता है?
  • Stop words क्या है?
  • Keyword stuffing क्या है?
  • एंकर text कैसे दिया जाता है?
  • Image size क्या होना चाहिये?
  • फोकस keyword क्या है?
  • Tag कैसे लगाने है?
  • Site discription कैसे बनानी है?
  • फीचर image कैसी होनी चाहिये?
  • FAQ क्या है क्यों जरुरी है?
  • Seo क्या है कैसे करें?
  • On page seo क्या है?

आज हम इन सब पर विस्तार से चर्चा करेंगे.

इससे पहले की हम wordpress पर seo friendly article लिखना शुरू करें उससे पहले आपको अपने wordpress पर 3 काम करने होंगे.3 steps to write seo friendly article for achieve high ranking on google.

 

WordPress पर SEO friendly article लिखने से पहले ये तीन काम जरूर करें 

सबसे पहला step – सबसे पहले आपको wordpress की  general setting option पर जाना है.

जैसा की आप नीचे image मे देख रहे है आपकी setting कुछ इस प्रकार से होनी चाहिए. इसी हिसाब से आप भी अपनी setting ठीक कर लीजिये.

Seo-friendly-article

यह आपके blog post की url permalink setting है. यह बहुत ज़ादा जरुरी है.

WordPress पर seo friendly आर्टिकल लिखने के लिये आपको कुछ plugin की आवश्यकता पड़ेगी. चलिए उन्हें जल्दी से install कर लेते है.

 

पहला plugin है easy table of content, ज़ब भी आप article मे हेडिंग्स और sub हेडिंग्स बनाओगे तब ये table of content अपना काम करना शुरू कर देगा यानी आपके सभी हेडिंग्स और sub हेडिंग्स को, “एक table मे, तथा एक line मे नियमबद्ध तरीके से दर्शाएगा”. जो की preview मे कुछ इस प्रकार का नजर आएगा.

Table-of-content

यह post लिखते समय नजर नहीं आएगा. यह अपने आप बन जाएगा जो सिर्फ audience को नजर आएगा यानी preview page पर.

 

इस plugin को install करने के बाद आपको इसकी settings मे आना है.ज़ब आप अपने mobile browser को desctop mod पर करोगे तब आपको कुछ ऐसा full page दिखाई देगा.मैंने image मे step 2 step नंबर से बताया है की पहले क्या करना है. आप image step follow करें और setting सही करें.

Seo-friendly-article

यहां पर आपको सबसे पहके enable support pr post, pages पर tik कर देना है.

उसके बाद auto insert मे भी ऐसे ही post pages box मे टिक कर देना है यानी select कर लेना है.

 

इसके बाद position मे – before first heading (default) ही रहने देना

 

इसके बाद show when मे  1 नंबर सेलेक्ट कर लेना.

इसके बाद नीचे वाले box पर टिक कर के सबसे नीचे आजाना है और save changes पर click कर के save कर लेना है.

 

बस यहां पर हमारा table of content का काम खत्म.

 

दूसरा step – शुरुआत मे ज़ब wordpress पर हम नया आर्टिकल लिखने के new post बटन पर क्लिक करते है तो हमारे सामने by defoult ऐसा editor page open होता है यह एक गुटन बर्ग editor थीम है. यदि mobile से आर्टिकल लिख कर publish करना है तो इस तरह के editor से दूर ही रहे.

Seo-friendly-article
Seo friendly blog post

इसलिए आसान तरीके से mobile पर ही Article लिखने के लिये आपको दो editor plugin install करके active करने होंगे.

सबसे पहले classic editor उसके बाद previously TinyMCE Advanced नीचे image मे इस प्रकार.

Seo-friendly-article

ज़ब आप ये दोनों editor tool install करके activate कर लोगे तब post लिखते समय कुछ ऐसा page दिखाई देगा.देखिये ये बहुत ही आसान सा पैटर्न है.

 

Step 3- अब तीसरा सबसे जरुरी काम आपको rank math seo tool का plugin install करके activate करना है.

Rank math, आर्टिकल के अंदर seo को बहुत ज़ादा आसान बना देता है.ज़ब हम नीचे आर्टिकल लिखना शुरू करेंगे तब हम आपको rank math का उपयोग करना बताएंगे.

Rankmath seo tool की बहुत सारी settings होती है. वो आप नीचे इस वीडियो को देख कर full setup complete कर सकते हो.


Article को seo के पैरामीटर पर 100% खरा उतारने मे rankmath मील का पत्थर साबित होगी.

 

मै अपनी तमाम blog post को इसी tool की मदद से google पर top rank करवा पाया हूं.

 

तो चलिए जानते है rank math seo tool की मदद से article को seo friendly कैसे बनाया जाता है.

 

सबसे पहले अपने mobile browser से desktop mode की settings को हटा दे.

अब New आर्टिकल लिखने के लिये सबसे पहले यहां + icon पर click करें फिर post पर click करें.

 

अब आपके सामने article लिखने के लिये एक page open हो जाएगा जहाँ content writing के सभी tool ऊपर की तरफ मौजूद है. 

 

यहां aap सबसे नीचे की तरफ आएंगे तो यहां आपको फुली गाइड करने के लिये आपका rank math seo tool मौजूद है जो आपको बताएगा की आपने कितने % आर्टिकल seo friendly लिखा है.

 

जैसे जैसे आप यहां rank math द्वारा बताए गए इन सभी पैरामीटर को full fill करते जाओगे वैसे वैसे यह ग्रीन होता जाएगा. 

Seo friendly article blog post लिखने का सही तरीका 

किसी भी आर्टिकल की शरुआत करने से पहले आपके पास एक सही keyword होना बहुत जरुरी है क्योंकि एक सही keyword पर लिखा गया आर्टिकल ही google पर easly rank होता है.

किस keyword पर आर्टिकल लिखना फायदेमंद होगा,एक सही keyword कैसे खोजा जाता है?

keyword खोजने मे इन बातो का खास ध्यान रखा जाता है की उसकी google पर मंथली सरचिस कितनी है? उस पर कितना cpc मिल रहा है और कम्पिटिशन कितना है? यह सब जानने के बाद ही उस पर आर्टिकल लिखना शुरू किया जाता है.. 👇

Free मे keyword कैसे पता करें?

ज़ादा quantity मे Keyword रिसर्च करने के लिये paid tool की आवश्यकता पड़ती है. एक paid keyword research tool मे बहुत सारी चीजें पता की जा सकती है जो हमें हमारे blog post की seo करने मे बड़ी मदद करता है.

फिलहाल एक बिगीनर के तौर पर आप एक free tool का उपयोग करके keyword पता कर सकते है.

Free मे keyword research करने के कई  तरह के online tool है.

सबसे best है ubersuggest. मै खुद यही tool उपयोग करता हूं. सबसे बड़ी बात इसका data ज़ादा सटीक होता है.ज़ब आप blogging मे एक्सपर्ट होजाए तो आप paid seo tool खरीद कर उसके सभी फीचर्स का फायदा उठा सकते है.

Ubersuggest tool का उपयोग कैसे करें?

यह tool उपयोग करने के लिये आपके डिवाइस मे एक active gmail id होनी चाहिये.

अब सबसे पहले अपने mobile browser को desctop mode पर सेट कर लो अब इस ubersuggest शब्द पर क्लिक करें.  Click करने के बाद आपके सामने ऐसा इंटरफेस आएगा.

Seo-friendly-article

अब यहां ऊपर इस sign in बटन पर click करो.उसके बाद जो page open होगा वहाँ continew with google बटन पर click करो.जैसा ऊपर image मे बताया गया है.

अब अपनी mail select करो. अब कुछ देर इंतज़ार करो.

अब आपके सामने ऐसा page open होगा जिसमे नीचे image मे देख कर समझो की आगे क्या करना है.

Se

Image मे दिखाए गए तीर के निसान अनुसार आपको पहले यहां keywords पर click करने के बाद keyword overview पर click करना है.

 

उसके बाद आपके सामने ये ऑप्शन आ जाएंगी जिसमे एक खाली box है.

अब यहां आपको इस खाली box मे वो keyword डालना है जिस पर आप आर्टिकल लिखना चाहते है.

चलिए मै एक keyword डालता हूं – moral story in hindi, ऊपर image के 3rd step मे आप देख सकते हो.

Keyword डालने के बाद यहां india select करें. फिर search बटन को दबाओ.

कुछ सेकेंड मे आपके सामने ये result दिखाई देगा.

ऊपर image मे आप देख सकते हो पहले इस keyword का monthly search volume दिखा रहा है – 74000, जो की बहुत ज़ादा है. यह बहुत ही अच्छी बात है. अगर आप इस keyword पर आर्टिकल publish करते हो और वो अगर rank हुआ तो आपके blog पर 50 हज़ार तक का ट्रेफिक आ सकता है जिससे आपको जबरदस्त earning होगी.

इसके इलावा साइड मे kD दिखा रहा है जो की 36 है. और seo ग्रीन कलर मे दिखा रहा है यानी इस पर आर्टिकल rank करवाया जा सकता है. Kd का मतलब होता है keyword डिफिकल्टी यानी उस keyword पर कम्पिटिशन कितना है. 36 ज़ादा होता है.

तो यह एक उदाहरण है. अभी आप अगर थोड़ा सा नीचे की तरफ आओगे तो आपको, इसी keyword से सम्बंधित और भी कुछ मिलते जुलते keyword दिखा रहा है जिनका search volume और KD, पहले वाले से कम या ज़ादा है. आप उनमे से भी keyword उठा सकते है आर्टिकल लिखने के लिये.

ध्यान रहे यहां पर आप रोज सिर्फ 3 keyword ही पता कर सकते है.

 

दोस्तों यही पर हमारा off page seo का कसम खत्म होता है.

तो दोस्तों उम्मीद करता हूं आप यह अच्छे से समझ गए होंगे की free मे keyeword कैसे खोजा जाता है.

Keyword की खोज करने के बाद अगला process onpage seo का शुरू होता है.सबसे पहला step

 

Seo friendly article by on page seo 

Step 1- आर्टिकल का टाइटल डाले.

सबसे पहले आपको  टाइटल डालना है. ध्यान रहे टाइटल मे वो keyword वो जरूर हो जिस keyword पर आप आर्टिकल लिख रहे हो. आप जिस keyword के आधार पर अपनी post को google पर rank करवाना चाहते हो वो keyword english शब्दों मे टाइटल मे जरूर डाले.इसे फोकस keyword कहा जाता है.

 

जैसे मान लो मै सेब के फायदों पर एक आर्टिकल लिखना चाहता हूं तो मेरा टाइटल है सेब के फायदे benefits of apple. अब इसमें मेरा फोकस keyword है benefits of apple.

फोकस keyword क्या है? कहाँ कहाँ होना चाहिए?

दोस्तों! अब यही से हमारे rank math seo tool का काम शुरू होता है जो इस काम को बहुत आसान बना देगा.

Rank math Seo के अनुसार आपका फोकस keyword टाइटल मे, परमालिंक मे, first पैराग्राफ मे, हेडिंग्स मे और आर्टिकल के बीच मे कुछ स्थानों पर उपयोग किया हुआ होना चाहिए.

इसके इलावा आर्टिकल मे upload की गई images के alt text मे भी फोकस कीवर्ड का उपयोग करना है. 

फोकस keyword हमेशा english अक्षर मे होने चाहिए. जैसे सेब – seb या apple   कहानी = kahani या story इस तरह.

Rank math के अनुसार seo score 90 से 100% करने का process

Seo-friendly-article

यह देखिये दोस्तों जैसे ही आप आर्टिकल के नीचे की तरफ आएंगे तो यहां ये सारा rank math क्राइटीरिया है जिसे full fill करना होता है, जैसे जैसे यह full fill होगा वैसे वैसे seo score भी बढ़ता जाएगा और सभी points ग्रीन होते जाएंगे. शुरू मे आर्टिकल लिखने से पहले यहां जीरो score दिखेगा.

आप यहां पर ये image देख सकते है,

Seo-friendly-article

जिसमे एक तरफ मेरा seo score 100 मे से 93 है.और दूसरी तरफ बाकी की image मे rank math का वो क्राइटीरिया जो एक एक करके सब ग्रीन है.

Seo-friendly-article

चलिए बारीकी से समझते से इतना scrore कैसे कर पाया.

सबसे पहले rank math seo की शुरुआत preview से होती है ये ऐसा तब दिखेगा ज़ब आप टाइटल, permalink, और डिस्क्रिपश्न डाल चुके होंगे. अब दिखा रहा है की google पर आपका snippist ऐसा दिखाई देगा.

जिसमे सबसे पहले preview लिखा है जिसके नीचे आप देख सकते है जो काले छोटे बारीक़ अक्षरों मे लिखा है वो हमारे आर्टिकल का permalink (url) है,

उसके बाद ठीक नीचे नीले बड़े अक्षरों मे हमारे आर्टिकल का टाइटल है,

उसके बाद उसके नीचे site discripshn है, जिसमे हद से हद 160 शब्द लिखें जा सकते है.

इन तीनो को मिलाकर एक snippist बनता है. यहां नीचे नीले बटन मे edit snippist लिखा है आप इन्हे अपने अनुसार edit कर सकते है.

ज़ब भी rank math मे snippist से जुड़ा कोई क्राइटीरिया अधूरा रहा गया हो या गलत डाल दिया गया हो तो आप उसे यहां edit snippist बटन पर click करके सही कर सकते हो.

अब उसके बाद आता है focus keyword का ऑप्शन. जैसा आप ऊपर image नंबर 1 मे देख रहे हो. जैसे ही आप इस खाली box मे अपने आर्टिकल का focus keyword डालोगे, तुरंत seo score बढ़ जाएगा.

अब यही से rank math के बाकी सभी seo क्राइटीरिया निर्भर करते है. फोकस keyword डालते ही कई क्राइटीरिया खुद ही ग्रीन हो जाएँगे और कुछ रेड ही रहेंगे जिन्हे पढ कर आपको एक एक करके सावधानी से सही करना है.

Rank math क्राइटीरिया के अनुसार फोकस keyword पूरे आर्टिकल मे कहाँ कहाँ होना चाहिये ये ऊपर पहले ही बताया जा चुका है.

इसके इलावा rank math क्राइटीरिया के अनुसार आर्टिकल मे क्या क्या होना चाहिये चलिए जानते है.

  1. आपका आर्टिकल कम से कम 600 शब्द से ज़ादा का होना चाहिए
  2. आपके टाइटल मे नंबर और पावर words का उपयोग होना चाहिये. मैंने अपने टाइटल मे नंबर का उपयोग नहीं किया क्योंकि उससे टाइटल की सेन्स खराब हो रही थी. आप चाहे तो किसी आर्टिकल मे उपयोग कर सकते हो इससे आपका seo score और बढ़ जाएगा.
  3. कम से कम 2 से तीन image आर्टिकल मे जरूर upload करो टॉपिक के अनुसार और उनमे alt text मे फोकस keyword जरूर डालो.
  4. आर्टिकल मे एंकर text के रूप मे कम से कम एक internal link और एक external link जरूर डाले.

Internal link का मतलब होता अपने ही blog के किसी आर्टिकल का link. External link का मतलब होता है किसी दूसरे domain अथवा blog एवं उनके किसी आर्टिकल का link.

 

Permalink कैसे डाले?

टाइटल लिखने के बाद आपको परमालिंक edit बटन पर क्लिक करके फोकस keyword copy पेस्ट कर देना है. आप चाहे तो कुछ और keyword भी परमालिंक मे डाल सकते हो.

वैसे तो permalink by defoult, टाइटल मे डाले गए words को ही same copy कर लेता है लेकिन आपको खुद से edit कर के अपने से permalink मे keywords डालने है.

क्योंकि seo के अनुसार permalink मे

ध्यान रहे टाइटल 8 words से ज़ादा ना हो. और परमालिंक भी 8 से 10 word के बीच ही होना चाहिए

 

किस तरह की image upload करें 

  • Seo के अनुसार 5 words के आर्टिकल मे कम से कम तीन image का उपयोग जरूर करें.
  • आर्टिकल मे टॉपिक से सम्वधित image ही upload करें. ध्यान रहे image google से ली हुई ना हो यानी वो image copy राइट ना हो.
  • आपको नॉनकॉपीराट image का ही उपयोग करना है.
  • Image की quality अच्छी और साफ सुथरी हो.
  • आप pixabay, pixels जैसी वेबसाईट से free स्टॉक hd image free download कर सकते हो.
  • ध्यान रहे आर्टिकल मे बहुत ज़ादा पिक्सल यानी high रिसोलूशन वाली image upload ना करें. इससे आपके वेबसाईट की speed पर असर पड़ेगा, page slow upload होगा जिसका ऑडियांस पर नेगेटिव इम्पैकट पड़ेगा.
  • इसलिये सबसे आसान तरीका है आप wordpress मे smush नाम का plugin install कर के activate कर दो.
  • फिर ज़ब भी आप आर्टिकल मे बड़े size की image (400, 500 kb तक की ) upload करोगे तो वो अपने आप ही upload हो रही image को एक हद तक compress कर देगा.
  • यदि फिर भी आपको image का size 60 kb से अधिक दिखे तो आप menuali  भी image के edit बटन पर click करके size घटा सकते है.

Seo friendly article के कुछ जरुरी tips 

  1. हो सके तो आर्टिकल मे table ग्राफ का उपयोग भी जरूर करें.
  2. ये सब आपके कन्टेट को quality provide करवाती है.
  3. Google quality content सबसे पहली प्राथमिकता देता है.
  4. आज कल बढ़ते कम्पिटिशन मे आर्टिकल हमेशा 1 हज़ार words से ज़ादा का ही लिखने का प्रयास करें.
  5. अब मेन आर्टिकल लिखना शुरू करो. सबसे पहले टॉपिक से सम्बंधित एक 3 से 4 लाइन के दो तीन पैराग्राफ लिखेंगे जिसमे फोकस keyword का होना जरुरी है.
  6. फिर फोकस keyword के साथ पहली हेडिंग देकर 5 से 6 लाइनों का अगला पैराग्राफ लिखें.
  7. आगे भी इसी तरह जारी रखे आर्टिकल points का उपयोग जरूर करें.
  8. Subheadings का उपयोग अवश्य करें.
  9. आर्टिकल मे टॉपिक से जुड़े उदाहरण देकर समझाए.
  10. आर्टिकल आखिर तक लिखने के बाद अब बारी आती है एंकर text की. अपने हर आर्टिकल मे एंकर text जरूर दे. यह onpage seo का बहुत जरुरी हिस्सा है.
  11. एंकर text की वजह से आपके पिछले आर्टिकल को बैकलिंक मिल जाता है जो उन आर्टिकल को rank करने मे मदद करता है.

एंकर text क्या होता है 

एंकर text का मतलब होता है एक प्रकार का हाइपर link बनाना यानी किसी text को hyperlink देना.

 

एंकर text कैसे लगाया जाता है?

जितने भी आर्टिकल आपके blog पर publish किये हुए है उनके url को ज़ब किसी दूसरे आर्टिकल के मौजूद text पर hyper link के माध्यम से जोड़ा जाता है या फिर अपनी तरफ से उस आर्टिकल के अंदर कोई keyword बना कर उस text से अपने किसी आर्टिकल के url को जोड़ने के लिये हाइपर link तकनीक का प्रयोग करते है तो  Internal link देना कहा जाता है.

ऐसे मे ज़ब भी कोई उस hyper link दिए हुए उस text पर click करेगा तो वो उसी आर्टिकल मे पहुँच जाएगा.

यह एंकर text का एक छोटा सा उदाहरण था. इसी तरह कई अलग अलग तरीको से अपने हर आर्टिकल के अंदर एंकर text दिए जाते है.

जैसा की आप image मे देख रहे है ये सिंबल होता है hyperlink का.

Seo-friendly-article

मान लो आप किसी शब्द अथवा keyword को एंकर text देना चाहते हो तो सबसे पहले उस keyword को select करो फिर इस hyperlink वाले सिंबल पर click करो.

Click करते उसी select keyword पर वापस आओगे तो वहाँ पर एक ऐसा box दिखाई देगा जहाँ पर अब आपको उस आर्टिकल का url पेस्ट करना है जिस आर्टिकल पर आप लोगो इस keyword के माध्यम से redirect करवाना चाहते हो.

 

एंकर text का मकसद 

एंकर text देने का मकसद अपने blog post को internal link देना ताकी users इन एंकर text को पढ़कर उस पर click कर दे और उसे दूसरी जानकारी भी प्राप्त हो सके ऐसा होने से हमारे page views भी बढ़ जाते है.जो की earning और page authority के नजरिये से भी काफ़ी अच्छा है.

 

FAQ जरूर बनाए 

आखिर मे FAQ जरूर लिखें जैसे मैंने नीचे लिखा है.

Faq का मतलब होता frequently asked question and answered. 

इस आर्टिकल मे आप देखिये नीचे मैंने FAQ लिखा है.

ये वो सवाल और जवाब होते है जिनके बारे लोग ज़ादातर google पर search करते है.

इसलिए FAQ लिखने से पहले आप google से थोड़ा रिसर्च जरूर कर ले.

आप अपने आर्टिकल के keyword को ज़ब गूगल पर डालेंगे तो search result मे आपको कुछ इस तरह से सवाल और जवाब मिल जाएंगे इन्ही को FAQ snippits कहा जाता है.

FAQ-schema

जैसा की आप पहली वली image मे देख रहे हो उसमे मैंने google पर “seo क्या है?”  लिख कर search किया था. बाद मे जो search result आया उसके थोड़ा नीचे कुछ इस तरह का snippits नज़र आया, इसी को FAQ schema कहा जाता है.

ज़ब मैंने पहले सवाल के upper arrow पर click किया तो ये वहीं पर ही एक्सपेंड हो गया. जैसा की आप ऊपर image नंबर 2 पर देख रहे हो.

FAQ,user को उसके खोजे गए सवालों का डायरेक्ट short मे जवाब देता है. जिससे उसका time save हो और पूरा आर्टिकल ना पढ़ना पड़े. हालांकि अगर उसको detail इनफार्मेशन चाहिये होगी तो वो उस FAQ snippits पर click करके आर्टिकल मे पहुँच जाएगा.

ऐसा FAQ scema,google पर उन्ही लोगो का शो होगा जिन्होंने ने अपने आर्टिकल मे FAQ scema का उपयोग किया होगा.

 

यही से आप same सवाल copy कर के अपने अनुसार जवाब दे सकते है. इस तरह आप अपने हर आर्टिकल मे FAQ बना सकते है.

 

FAQ ऑर्गेनिक ट्रेफिक लाने मे बहुत मदद करता है. कई बार search result मे FAQ भी rank कर रहे होते है यानी google खुद FAQ snippets रिकॉमेंड करवाता है.

अब जिसे डायरेक्ट सवालों का तुरंत जवाब चाहिए वो पूरा आर्टिकल नहीं पढ़ना चाहता तो वो इन FAQ snippets के माध्यम से संतुष्टिपूर्ण जवाब हासिल कर सकता गई.

दोस्तों उम्मीद करता हूं आज आपने इस आर्टिकल को पढ़कर अच्छे समझ लिया होगा की seo friendly article कैसे लिखा जाता है. Seo friendly article लिखने का सही तरीका है.

चलिए जानते है – how to add FAQ schema in wordpress – click करके जरूर पढे

Article मे FAQ scema markup कैसे लगाया जाता है.

 

Seo friendly article – FAQ

Image मे alt text का उपयोग क्यों किया जाता है?

कई बार google पर लोग search result मे image ऑप्शन मे जाकर भी देखते है यानी गूगल पर लोग image के माध्यम से भी blog तक पहुँचते है तो ऐसे मे आपके आर्टिकल का कोई image google images मे तभी दिखेगा ज़ब आपने आर्टिकल मे मौजूद image मे सम्बंधित keyword का alt text लिखा होगा. Google search result मे उन images को भी रिकॉमेंड करता है जिनमे alt text होते है.

आर्टिकल मे upload की जाने वाली image का size कितना होना चाहिए?

आर्टिकल मे image का size 50 से 60 kb से ऊपर नहीं होना चाहिए.

Keyword stuffing क्या है?

ज़ब हम आर्टिकल मे अपने फोकस keyword को अलग अलग तरीके अलग स्थानों मे डालते है तो उसे keyword stuffing कहते है. इसे भी बड़े सावधानी पूर्वक डालना पड़ता है. ऐसा नहीं आँख बंद करके इधर उधर कहीं भी डाल दिया. Keyword stuffing का आर्टिकल rank होने मे बड़ा योगदान होता है.

Rank math seo score कितना होना चाहिये?

Rank math seo score कम से कम 85 और अधिकतम 98 से 100 तक होनी चाहिये.

Permalink stop words क्या है?

A, E, I, To, Of, The, Are, In, by, with, ये सभी permalink stop keywords के उदाहरण है जो permalink मे नहीं होने चाहिये.नीचे एक image शेयर कर रहा हु जिसमे बाई तरफ permalink मे stop keywords डाले गए है और दाई तरफ without stop keywords का permalink है. इस image से आपको clear हो जाएगा.
Seo-friendly-article

 

Leave a Comment

Your email address will not be published.

blog par organic traffic badhane ke tarike poultry farm का business कैसे करें step 2 step New blog पर adsense approval कैसे लें Web mention kya hai | वेबमेंशन करने का सही तरीका Mba chai wala franchise कैसे शुरु करें पूरी जानकारी high profit business idea blog post को google मे index करना सीखे dairy farming business in india pi account kaise banaye kaise mining करें How to buy Ahrefs tool cheap price